पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023: State Employee Cashless Treatment Scheme

पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना क्या है? State Employee Cashless Treatment Scheme 2023

Table of Contents

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना शुरू हुई है, जिसके अंतर्गत देशवासियों को राज्य और केंद्र सरकार द्वारा कई योजनाओं के माध्यम से कैशलैस इलाज की सुविधा प्राप्त होती है। इस योजना के तहत लाभार्थी को एक स्वास्थ्य कार्ड (Health Card) प्रदान किया जाता है, जिसका उपयोग करके वे अस्पताल में कैशलेस उपचार प्राप्त कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी अपने कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए इसी तरह की एक योजना शुरू की है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना द्वारा उन्हें निजी अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी। यदि आपको P.D.U. Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana के बारे में विस्तृत जानकारी चाहिए, तो इस लेख में आपको पूरी जानकारी मिलेगी।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022

उत्तर प्रदेश सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की शुरुआत की है, जिसका उद्देश्य राज्य के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए है। इस योजना के अंतर्गत, राज्य सरकार द्वारा सभी पात्र लोगों को मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाएगी। इस नि:शुल्क उपचार सुविधा के लिए, राज्य सरकार पांच लाख रुपये खर्च करेगी। सभी आवेदकों को एक ऑनलाइन राज्य स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। इसके माध्यम से, पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस हेल्थ कार्ड योजना के लाभ सरकारी कर्मचारियों, पेंशनरों और उनके परिवार के अन्य सदस्यों तक पहुंचाई जाएगी। इस योजना को उत्तर प्रदेश की सरकार ने 7 जनवरी 2022 को मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद जी द्वारा शुरू किया है। इस सफल योजना के लागू होने से, लगभग तीस लाख नागरिकों को उत्तर प्रदेश में रहने वाले लोगों को लाभ मिलेगा।

इस योजना से 22 लाख कर्मचारी और पेंशनर्स, साथ ही उनके 75 लाख से अधिक आश्रित परिवारों को लाभ प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत, लाभार्थियों को एक विशेष स्वास्थ्यआईडी कार्ड दिया जाएगा। इसके माध्यम से, वे और उनके आश्रित परिवार के सदस्य एक वर्ष में ₹500,000 तक के कैशलेस इलाज का लाभ उठा सकेंगे जो आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में उपलब्ध होगा। इसके साथ ही, लाभार्थी सरकारी अस्पतालों में असीमित कैशलेस उपचार का लाभ ले सकेंगे।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की मुख्य बिंदु:

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के कर्मचारी और पेंशनर्स
उद्देश्यउपचार की सुविधा उपलब्ध करवाना
राज्यउत्तर प्रदेश
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

News About राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना

जैसा कि सभी जानते हैं, उत्तर प्रदेश में राज्य कर्मचारियों और पेंशनरों को कैशलेस स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का उद्देश्य रखा गया है। 2022–2023 में इस योजना को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए, राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। पहले 10 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत कर दी गयी है । लगभग 200 निजी अस्पताल आयुष्मान भारत कार्यक्रम के अंतर्गत उपलब्ध हैं, और इन्हीं अस्पतालों में 2022 के पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभार्थियों को ₹5,00,000 तक का निशुल्क उपचार मिलेगा। जो राज्य कर्मचारी या पेंशनर अभी तक इस योजना के तहत आवेदन नहीं किया है, वे तत्परता से इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर स्वास्थ्यआईडी कार्ड बनवा सकते हैं।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना कैसे काम करती है? और इसका लाभ कैसे लें?

  • उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवार के आश्रित सदस्यों को मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।
  • लाभार्थी को राज्य स्वास्थ्य कार्ड के माध्यम से पहचाना जाएगा और कैशलेस सुविधा की कोई अधिकतम सीमा नहीं होगी।
  • योजना के तहत लाभार्थियों को चिकित्सालयों में भर्ती कराकर निशुल्क इलाज प्रदान किया जाएगा।
  • खाद्य, टॉनिक या प्रसाधन के रूप में उपयोग की जाने वाली दवाओं की बिलिंग मान्य नहीं होगी, और चिकित्सालयों को दिए गए धन से बिल समायोजित किया जाएगा। इन दवाओं के खर्च को लाभार्थी वहन करेंगे।
  • उपरोक्त अस्पतालों और राजकीय चिकित्सा संस्थानों में अंतर्निहित रोगी के रूप में कार्यवाही की जाने वाली चिकित्सा के हॉस्पिटल चिकित्सा अधीक्षक द्वारा प्रमाणित बीजक के आधार पर पूर्ण प्रतिपूर्ति दी जाएगी, जब तक कि कैशलेस सुविधा कार्ड नहीं बनाया जाता है। ऐसे बीजक को मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा परीक्षण कराना आवश्यक नहीं होगा।
  • निजी अस्पतालों में उपचार की व्यवस्था: पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत एंटरप्राइजड निजी अस्पतालों में भी इलाज प्राप्त कर सकता है।
  • निजी अस्पताल में इलाज करवाने वाले प्रत्येक लाभार्थी के लिए सालाना ₹500,000 की सीमा होगी।
  • आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत निजी चिकित्सालयों में सिर्फ सामान्य वार्ड हैं। प्राइवेट वार्ड की सुविधा भविष्य में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के तहत उपलब्ध की जाएगी।
  • इस कॉरपस में अधिकतम 50% की अग्रिम राशि प्रदान की जाएगी।
  • चिकित्सालय को अगराशि की 50% की उपयोगिता का प्रमाणपत्र प्राप्त होने पर अगली किस्त दी जाएगी।
  • चिकित्सा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र के अस्पतालों को पूर्व धनराशि देने के लिए 100 करोड़ रुपये का कॉरपस बनाया जाएगा।
  • चिकित्सा संस्थान से 50% राशि का उपयोग प्रमाण पत्र मिलने पर अगली किस्त दी जाएगी।
  • कॉरपस धन दो अलग सरकारी बैंक खातों में रखा जाएगा।
  • लाभार्थियों पर खर्च किए गए धन का पहला हिसाब चिकित्सा संस्थानों का होगा।
  • इसके अलावा, सभी बिल और अभिलेख सुरक्षित रखे जाएंगे ताकि समय पर ऑडिट किया जा सके।
  • इस योजना से 30 लाख से अधिक लोगों को लाभ प्राप्त होगा।

P.D.U. Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana पात्रता मानदंड

उत्तर प्रदेश राज्य में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना लाभ लेने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को निम्नलिखित योग्यता मानदंडों का पालन करना होगा:

  • योग्य आवेदनकर्ता केवल उत्तर प्रदेश राज्य के स्थायी नागरिक होना चाहिए।
  • इस योजना के लाभ लेने के लिए केवल सरकारी कर्मचारी और पेंशन होल्डर ही योग्य होंगे।
  • आवेदक को योजना के लिए आवेदन करते समय सभी आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए।

Documents Required for पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना (Uttar Pradesh State Employee Cashless Treatment Scheme)

आधार कार्ड (As Identity Card)
निवास प्रमाण पत्र (Proof of Residence)
राशन कार्ड (Ration Card)
आय प्रमाण पत्र (Income Certificate)
आयु का प्रमाण (Proof of Age)
पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ (Passport Size Photographs)
मोबाइल नंबर (Mobile Number)
ईमेल आईडी (Email ID) etc.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लिए आवेदन कैसे करें? State Employee Cashless Treatment Scheme Online Registration

उत्तर प्रदेश राज्य में कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभ लेने के लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  • सबसे पहले, योजना की आधिकारिक वेबसाइट (https://sects.up.gov.in/) पर जाएं।
  • होमपेज पर पहुंचने के लिए वेबसाइट को खोलें।
  • वहां आपको रजिस्ट्रेशन विकल्प “Apply for State Health Card” दिखाई देगा, उसे चुनें।
P D U state employees cashless health card website
  • आगे बढ़ने पर, आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुलेगा।
  • इस फॉर्म में, अपनी सभी आवश्यक जानकारी भरें।
  • आवेदन को पूरा करने के बाद, सभी आवश्यक दस्तावेजों (Document Files) को अपलोड करें।
  • आपको दी गई जानकारी की जांच करें।
  • अंत में, आपको रजिस्टर (Register) का विकल्प चुनें और आवेदन को पूरा करें।

आप इस तरह P.D.U. Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2022 के लिए सफल आवेदन कर सकते हैं।

Check Application Status for पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना

application status for PDY health card scheme
  • पहले, पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाइट पर पहुंचने के लिए इसे (https://sects.up.gov.in/) खोलें।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर होमपेज दिखाई देगा।
  • अब आपको “चेक एप्लीकेशन स्टेटस” विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • या आप डायरेक्ट इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं (https://sects.up.gov.in/public/showAppStatus.aspx_
  • एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने के लिए एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर, आपको अपना आधार नंबर और Captcha कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको “सर्च” विकल्प पर क्लिक करना होगा।

इस तरह आप अपने एप्लीकेशन स्टेटस की जांच कर सकेंगे।

आवेदन पत्र में संशोधन करने की प्रक्रिया (Edit Application for Cashless Health Card)

  • सबसे पहले आपको Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2022 की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Employee/Pensinor Application के टैब पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने कई सारे ऑप्शन खुलकर आ जाएंगे जिसमें से आपको Edit Application पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज में आपको अपना आधार नंबर एवं Captcha कोड डालकर SEND OTP के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा। जिसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना है।
  • आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको SAVE के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप अपने आवेदन पत्र में संशोधन कर सकते हैं।

उपरोक्त जानकारी ध्यानपूर्वक और पाठकों के हित को ध्यान में रखते हुए, प्रदान की गयी हैं. आप इस जानकारी को सरकार की योजना का लाभ उठाने में अथवा Competitive Exams की तैयारी में कर सकते हैं। परन्तु हम फिर भी मानव त्रुटि की संभावना को नकार नहीं सकते। अतः पाठकों से निवेदन है कि वह योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर पुष्टि अवश्य कर लें।Thanks A2Z Sarkari Yojana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *