झारखंड मुख्यमंत्री सारथी योजना 2023 आवेदन प्रक्रिया: Jharkhand Mukhyamantri Sarathi Yojana

मुख्यमंत्री सारथी योजना 2023

मुख्यमंत्री सारथी योजना (Mukhyamantri Sarathi Yojana) क्या है?

मुख्यमंत्री सारथी योजना 2023 झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की एक महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना के तहत युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार से जोड़ने के लिए सिलाई, सिलाई और बढ़ईगीरी जैसे विभिन्न कौशल कार्यक्रमों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रत्येक ब्लॉक में कौशल प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किए जाएंगे, जहां बेरोजगार युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा। यदि तीन महीने के प्रशिक्षण के बाद किसी प्रशिक्षु को नौकरी नहीं मिलती है, तो प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) के माध्यम से पहले वर्ष के अंत तक लड़कों को 1,000 रुपये और लड़कियों या शारीरिक रूप से विकलांग प्रशिक्षुओं को 1,500 रुपये का बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। गैर-आवासीय प्रशिक्षुओं को 1000 रुपये का भत्ता भी प्रदान किया जाएगा।
राज्य सरकार की प्रमुख योजना मुख्यमंत्री सारथी योजना एक अप्रैल से लागू होगी. चालू वित्तीय वर्ष में यह योजना शुरू नहीं हो सकी। श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग ने इसे अगले वित्तीय वर्ष से ही लागू करने का निर्णय लिया है।

मगर झारखंड सरकार की ब्लॉक-स्तरीय कौशल विकास कार्यक्रम, मुख्यमंत्री सारथी योजना (MMSY) का शुभारंभ स्थगित कर दिया गया है। श्रम विभाग की एमएमएसवाई झारखंड कौशल मिशन का हिस्सा है। यह योजना कौशल मिशन को ब्लॉक स्तर तक ले जाएगी।

मुख्यमंत्री सारथी योजना 2023 के लिए पात्रता (Eligibility for Mukhyamantri Sarathi Yojana)

मुख्यमंत्री सारथी योजना के लिए आवेदकों के पात्रता को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया है:
1. सामान्य और
2. आरक्षित

सामान्य वर्ग के तहत 18-35 आयु वर्ग के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, जबकि आरक्षित वर्ग के लिए ऊपरी आयु सीमा 50 वर्ष होगी।

यूं तो अभी मुख्यमंत्री सारथी योजना स्थगित कर दी गई है मगर मुख्यमंत्री सारथी योजना से जुड़ी विस्तृत जानकारी जैसे ही झारखण्ड सरकार जारी करेगी, आपको A2Z सरकारी योजना पर हम तुरंत अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *